Home खबर बरसाने की लट्ठमार होली में शामिल होंगे योगी, विपक्ष ने साधा निशाना

बरसाने की लट्ठमार होली में शामिल होंगे योगी, विपक्ष ने साधा निशाना

0
SHARE

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मथुरा जिले के बरसाने में मनाई जाने वाली मशहूर लट्ठमार होली में इस बार शामिल होने का निर्णय लिया है, लेकिन उनके इस निर्णय पर राजनीति शुरू हो गई है. विपक्ष का कहना है कि सीएम सिर्फ हिंदुओं के त्योहार में शामिल हो रहे हैं और बाकी संप्रदायों के त्योहारों को नजरअंदाज कर रहे हैं.

विरोधी इसे भी प्रदेश के मुखि‍या के कथि‍त हिंदुत्व एजेंडे का हिस्सा मान रहे हैं. हाल में यूपी के पर्यटन विभाग ने ताज महोत्सव की शुरुआत रामायण के मंचन के साथ करने का निर्णय लिया था. इसको भी मुस्लिम समुदाय में अच्छे नजरिए से नहीं देखा गया. हिंदुओं के त्योहार में शामिल होने और मुस्लिम त्योहारों से दूरी बनाने के कथित दोहरे मापदंड को लेकर सीएम योगी की आलोचना की जा रही है.

बरसाने की मशहूर होली में महिलाएं हाथ में लट्ठ लेकर पुरुषों को पीटती हैं और पुरुष इस पर अपना बचाव करते हैं. मुस्लिम समाज के कुछ लोगों को लगता है कि सीएम योगी को ऐसे आयोजनों से दूर रहना चाहिए, क्योंकि इससे एक खास धर्म के प्रति झुकाव का संदेश जाता है.

आजतक-इंडिया टुडे से बात करते हुए आगरा के समाजवादी पार्टी के नेता रईसुद्दीन ने कहा, ‘सीएम का हिंदू त्योहारों के प्रति लगाव दिखाने से वैश्विक स्तर पर यूपी के बारे में गलत संदेश जा रहा है. ऐसी छवि बन रही है कि यह प्रदेश एक सांप्रदायिक सरकार चला रही है. इससे राज्य का विकास प्रभावित होगा और अखिलेश यादव के समय जो तरक्की का पहिया चल पड़ा था उस पर रोक लग जाएगी.’

गौरतलब है कि इससे पहले मुख्यमंत्री योगी ने अयोध्या में दिवाली मनाई थी और अब वह मथुरा के बरसाने में होली मनाने की तैयारी कर रहे हैं. मथुरा के स्थानीय अधिकारियों ने इस बात की पुष्ट‍ि की कि लट्ठमार होली के दौरान सीएम की यात्रा को लेकर तैयारियां की जा रही हैं.

सीएम योगी वहां 22 फरवरी को जाएंगे और 23 फरवरी को लट्ठमार होली में शामिल होंगे. वह यमुना आरती में भी शामिल होंगे. सूत्रों के अनुसार सीएम योगी के साथ इस कार्यक्रम में पंडित जसराज, हरिप्रसाद चौरसिया, हेमा मालिनी, धर्मेंद्र जैसे कलाकार भी शामिल होंगे. सीएम इस मौके पर बरसाना में एक बायोगैस प्लांट का भी उद्घाटन करेंगे.

दूसरी तरफ, बरसाने में होली मनाने के सीएम के निर्णय को सही बताते हुए हिंदुस्तान बिरादरी के उपाध्यक्ष विशाल शर्मा ने कहा कि होली और दिवाली दोनों त्योहारों की शुरुआत यूपी से ही हुई है, इसलिए सीएम का ऐसा करना उचित है. सीएम ऐसा करके अयोध्या और ब्रज क्षेत्र को दुनिया के पर्यटन नक्शे पर लाना चाहते हैं.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here