Home खबर वैष्णो देवी मंदिर के बाहर ऐसा नजारा, एक FB पोस्ट से सामने...

वैष्णो देवी मंदिर के बाहर ऐसा नजारा, एक FB पोस्ट से सामने आई हकीकत

0
SHARE

जम्मू.कटरा स्थित माता वैष्णों के दर्शन के लिए हर साल यहां लाखों श्रद्धालु पहुंचते हैं। कटरा से माता के मंदिर तक पहुंचने के लिए पहाड़ों पर बने टेढ़े-मेढ़े रास्तों से होकर सफर तय करना पड़ता है। ज्यादातर लोग पैदल ही इस सफर को तय करते हैं। लेकिन पैदल यात्रा करने में असमर्थ बच्चे, बुजुर्ग, बीमार और खास तौर पर दिव्यांग लोग खच्चर, पिट्ठू या हेलिकॉप्टर के सहारे मंदिर तक पहुंचते हैं। लेकिन, इनमें खच्चरों की भूमिका काफी खास होती है, क्योंकि ये बेजुबान जानवर ज्यादा से ज्यादा वजन उठाकर इस मुश्किल रास्ते पर चलते हैं।

हाल ही में मैं अपनी वाइफ के साथ मां वैष्णों देवी और श्री शिव खोड़ी के दर्शन के लिए गया था। मुझे मानवता पर काफी विश्वास था, लेकिन इस यात्रा के बाद मेरा मानवता से विश्वास उठ गया।”मैंने देखा कि बेजुबान खच्चर और घोड़े अपने ऊपर लगभग 90-100 किलो का भार उठाए 24 किमी की चढ़ाई कर रहे हैं। ये उनके स्वभाव के विरुद्ध है, क्योंकि ये जानवर समतल जगहों पर चलने और दौड़ने के लिए बने हैं और वो भी बिना कोई भार उठाए।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here