Home खबर बुलंदशहर: ‘आधार’ से सुलझी डबल मर्डर की गुत्थी, प्रेमी निकला हत्यारा

बुलंदशहर: ‘आधार’ से सुलझी डबल मर्डर की गुत्थी, प्रेमी निकला हत्यारा

0
SHARE

बुलंदशहर में दो दिन पहले घर के अंदर जिंदा जलाकर मार दी गईं दो बहनों के हत्यारे को गिरफ्तार करने में UP पुलिस सफल हुई है. पुलिस ने आधार कार्ड के आधार पर हत्यारे को खोज निकाला. पुलिस के मुताबिक, मृत बहनों में से एक 23 वर्षीय शीलू के प्रेमी ने ही शादी से इनकार करने पर पहले शीलू की फिर उसकी ममेरी बहन शिवानी की हत्या कर उन्हें जिंदा जला दिया था.

पुलिस ने आज दोनों बहनों की हत्या के आरोप में शीलू के प्रेमी अंकित सिरोही उर्फ पुष्कल को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में अंकित ने शीलू से प्रेम संबंध और दोनों बहनों की हत्या का जुर्म कुबूल कर लिया है. दरअसल शीलू ने अंकित से शादी से इनकार कर दिया और प्रेम में खुद को नाकाम पाकर अंकित ने दोनों की हत्या कर दी.

पुलिस के मुताबिक, अंकित ने शीलू की हत्या के बाद चश्मदीद शिवानी की राज खुलने के डर से हत्या की. उसने दोनों को जलाकर हत्या के सारे सुबूत भी मिटाने चाहे, लेकिन एक गलती वह जरूर कर गया. दरअसल वह मौका-ए-वारदात पर अपना आधार कार्ड भूल गया.

अंकित ने पूछताछ में बताया कि वब शीलू को काफ़ी समय से जानता था और दोनों के परिवार में उनकी शादी को लेकर बातचीत भी चल रही थी. गुरुवार की सुबह शीलू ने अंकित को अपने घर मिलने के लिए बुलाया. शीलू के भाई राहुल की शादी 18 फरवरी को होनी तय थी और उस दिन घर के सभी सदस्य शादी के लिए शॉपिंग करने दिल्ली गए हुए थे.

घर पर सिर्फ शीलू और उसकी ही उम्र की उसकी ममेरी बहन शिवानी मौजूद थे. अंकित गुरुवार की सुबह शीलू से मिलने उसके घर पहुंचा. शीलू ने अंकित और शिवानी के लिए पास्ता बनाया और फिर तीनों बातें करने लगे. तक़रीबन 3.30 बजे शीलू और अंकित शादी की बात करने दूसरे कमरे में चले गए, जहां उन दोनों के बीच में झगड़ा हुआ.

दरअसल शीलू ने अंकित से शादी से इनकार कर दिया था, जिससे नाराज होकर अंकित ने शीलू की गला दबाकर हत्या कर दी. अंकित को भरोसा नहीं हुआ कि शीलू की मौत हो गई है. वह घर से बाहर निकला और मोटरसाइकिल से क्लच वायर लाकर दोबारा शीलू का गला दबा दिया.

लेकिन अंकित को फिर याद आया कि घर में उन दोनों के अलावा एक तीसरा सदस्य शिवानी भी है, जो हत्या का राज खोल सकती है. इसके बाद उसने क्लच वायर से ही शिवानी की भी गला घोंटकर हत्या कर दी. सुबूत मिटाने के लिए उसने घर में ही रखा मिट्टी का तेल छिड़ककर दोनों को आग के हवाले कर दिया.

देर रात जब परिवार के शेष सदस्य घर पहुंचे तो घर के अंदर सन्नाटा पसरा था और अजीब से गंध आ रही थी. एक कमरे में शीलू की जली लाश पड़ी थी तो दूसरे कमरे में शिवानी की लाश भी अधजली अवस्था में मिली. परिजनों के अनुसार, उन्हें घर में अंकित को मोबाइल मिला था, जिसके आधार पर अंकित के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here