Home खबर बंगाल के इस गांव में TMC का भय, महिलाएं दे रही हैं...

बंगाल के इस गांव में TMC का भय, महिलाएं दे रही हैं पहरा

0
SHARE

BJP के दो कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद पश्चिम बंगाल के पुरुलिया के डाभा गांव में दहशत का माहौल है. गांव भर के लोग जागकर और पहरा देकर रात बिता रहे हैं. गांव में रातभर ‘जागते रहो’ की चेतावनी गूंजती रहती है.बीते एक सप्ताह से पुरुलिया राजनीतिक हिंसा का अखाड़ा बना हुआ है. 72 घंटे के अंदर जिले के दो गांवों में BJP के दो कार्यकर्ताओं की हत्या हो गई. पहली हत्या बलरामपुर इलाके के सुपढ़ीह गांव में हुई. 19 वर्षीय दलित युवक त्रिलोचन महतो का शव एक पेड़ से लटकता मिला था, जबकि दूसरी हत्या डाभा गांव में हुई, जहां बीजेपी कार्यकर्ता की लाश हाईटेंशन खंबे से लटकती मिली थी.इलाके में तृणमूल और बीजेपी के बीच राजनीतिक रंजिश के तहत पहली बार इस तरह की हत्याएं हुईं. लेकिन इन दो हत्याओं के बाद इलाके में तनाव और बढ़ गया है. कुछ स्थानीय लोगों और कुछ बीजेपी नेताओं ने बताया कि तृणमूल कांग्रेस का समर्थन न करने की वजह से पूरे गांव को गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी गई है.इसी वजह से ग्रामीण पूरी-पूरी रात गांव की चौकसी करते बिता रहे हैं. तृणमूल के लोगों के हमले से बचने के लिए गांव की महिलाएं और बच्चियां तक हाथों में लाठी-डंडे और हंसिया लिए रात-रात भर पहरा दे रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here