Home खबर पाक फैलाना चाहता है भारत में नशे का आतंक, 532 किलो हेरोइन...

पाक फैलाना चाहता है भारत में नशे का आतंक, 532 किलो हेरोइन पकड़ी, अब तक की सबसे बड़ी खेप

0
SHARE

पाकिस्तान से नशे का आतंक फैलाने के लिए भेजी गई 532 किलोग्राम हेरोइन की खेप इंटीग्रेटिड चेक पोस्ट (ICP) अटारी पर पकड़ ली गई। यह खेप अमृतसर के इंपोर्टर गुरपिंदर सिंह ने पाकिस्तान से मंगवाई थी। उसे हिरासत में ले लिया है। पूछताछ में उसने यह बात कुबूल की है।

पाकिस्तान से सड़क के रास्ते आई हेरोइन की यह खेप अब तक सबसे बड़ी रिकवरी है। इससे पहले साल 2012 में वाघा के जरिए रेल मार्ग से 101 किलो हेरोइन पाक के एक्सपोर्टर ने भेजी थी। शनिवार को पकड़ी गई खेप जम्मू-कश्मीर के जिला हंदवाड़ा के ट्रेडर तारीक अहमद लोन के लिए मंगवाई गई थी। उसे जम्मू-कश्मीर पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

 

26 जून को पाक से आया था रॉक साल्ट का ट्रक

पत्रकारों से बातचीत में कस्टम कमिश्नर दीपक कुमार गुप्ता व ज्वाइंट कस्टम कमिश्नर डॉ. अरङ्क्षवद कुमार ने बताया कि 26 जून को पाक एक्सपोर्टर ने रॉक साल्ट (नमक) का एक ट्रक भेजा था। इस ट्रक में 600 बैग थे। पाक का ड्राइवर ट्रक अनलोड करवाकर वापस लौट गया। यह कंसाइनमेंट अमृतसर के इंपोर्टर गुरपिंदर सिंह ने मंगवाई थी। शनिवार को गुरपिंदर का कस्टम हाउस एजेंट कंसाइनमेंट रिलीज करवाने आया था। जांच के दौरान इसमें इसमें सफेद पैकेट होने की बात सामने आई। चेङ्क्षकग के दौरान इसमें 532 किलो हेरोइन बरामद हुई।

52 किलो के अन्य बैग की जांच जारी

इसी खेप में 52 किलो वजन का एक अन्य बैग मिला, जिसमें न तो नमक है और न ही हेरोइन। शक है कि इसमें भी नशीला पाउडर है। इसके सैंपल केमिकल एग्जामिनेशन के लिए दिल्ली भेजे जा रहे हैं।

देश विरोधी ताकतों का हाथ होने की आशंका

इंपोर्टर गुरपिंदर से इस बात को लेकर पूछताछ जारी है कि इससे पहले वह कब-कब नशा तस्करों का साथ देता रहा है। पाकिस्तान में वह किसके संपर्क में है। हेरोइन की कीमत उसने कैसे अदा की। क्या इसमें विदेश में बैठी देश विरोधी ताकतों का हाथ भी है। इन सवालों के जवाब ढूंढने के लिए सुरक्षा एजेंसियां व पंजाब में नशे के खात्मे के लिए गठित स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) भी सक्रिय हो गई है। इस हाई प्रोफाइल केस में अमृतसर में कई जगहों पर एक साथ जांच जारी है।

पाकिस्तान की नीयत पर शक

पाकिस्तान के वाघा बॉर्डर पर स्कैनर होने के बावजूद इतनी बड़ी खेप में हेरोइन भारत भेजने को लेकर पाक की नीयत पर सवाल उठ रहे हैैं। पाक के कस्टम अधिकारियों की इस मामले में शमूलियत के बारे में पूछने पर कस्टम कमिश्नर दीपक कुमार गुप्ता ने कोई कमेंट नहीं किया। उन्होंने इतना जरूर कहा कि जरूरत पडऩे पर पाक कस्टम अधिकारियों से बात कर वहां के एक्सपोर्टर को गिरफ्तार किया जा सकता है।

ICP अटारी पर स्कैनर नहीं

ICP अटारी को शुरू हुए करीब आठ साल से ज्यादा का समय हो चुका है, लेकिन अभी तक यहां स्कैनर नहीं लग पाया है। कस्टम कमिश्नर दीपक गुप्ता का कहना है कि स्कैनर इंस्टॉल किया जाना है। भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर से मंजूरी लेने की प्रक्रिया चल रही है।

#pakistan #india #impotergurpinder #afeem #drugs #agency #hindinews #baghaborder #shipradarpan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here