Home खबर हंगामे के बीच मोदी का कांग्रेस पर वार- आपके जहर की कीमत...

हंगामे के बीच मोदी का कांग्रेस पर वार- आपके जहर की कीमत देश चुका रहा है

0
SHARE

लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधन से पहले विपक्ष ने जोरदार हंगामा किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष के जोरदार हंगामे के बीच ही अपने भाषण की शुरुआत की, भाषण के दौरान विपक्षी सांसद नारेबाजी करते रहे. विपक्षी पार्टी के साथ टीडीपी भी लोकसभा में हंगामा कर रही है. लोकसभा के बाद पीएम मोदी राज्यसभा को भी संबोधित करेंगे.

पीएम मोदी ने कहा कि अभिभाषण के बाद जो चर्चा हुई है, उसपर पक्ष-विपक्ष दोनों तरफ से बातें कहीं गई हैं. मोदी ने कहा कि सदन में सार्थक चर्चा हुई है, लेकिन सिर्फ विरोध के खातिर ही विरोध करना कितना उचित है ये देखना होगा.

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति किसी दल या पार्टी के नहीं होते हैं. हमारे देश में राज्यों की रचना अटल बिहारी वाजपेयी ने भी की थी, उन्होंने तीन राज्यों की रचना की थी लेकिन कोई हंगामा नहीं हुआ था. किसी भी राज्य को कोई भी समस्या नहीं हुई थी.

पीएम मोदी बोले कि जब आपने (कांग्रेस) भारत का विभाजन किया और देश के टुकड़े किए और जो जहर बोया उसके कारण ये हंगामा हो रहा है. मोदी ने कहा कि आपके जहर की कीमत देश चुका रहा है, आंध्र के साथ जो हुआ वो सही नहीं हुआ था. कांग्रेस ने चुनाव के लिए जो हड़बड़ी में किया, उसके कारण ही 4 साल के बाद भी ये समस्या पैदा हुई हैं.

उन्होंने कहा कि कल मैं खड़गे जी का भाषण सुन रहा था उसमें समझ नहीं आ रहा था कि वे किसे संबोधित कर रहे हैं. उन्होंने बशीर बद्र की शायरी से शुरुआत की, जो शायरी सुनाई है वो कर्नाटक के सीएम ने जरूर सुनी होगी. शायरी में कहा कि दुश्मनी जमकर करो, लेकिन ये गुंजाइश रहे जब हम दोस्त बन जाए तो शर्मिंदा ना हो. उम्मीद है कि कांग्रेस सीएम ने ये बात सुनी होगी.

मोदी बोले कि अच्छा होता कि शायरी की शुरुआती लाइन गौर से पढ़ लेते. पीएम ने बशीर बद्र की आगे की शायरी सुनाते हुए कहा कि ‘जी चाहता है सच बोलें, जी बहुत चाहता है सच बोलें, क्या करें हौसला नहीं होता.’

कर्नाटक के चुनाव के बाद क्या पता खड़गे जी वहां होंगे या नहीं ये शायद उनकी फेयरवेल स्पीच भी हो सकती है. जब फेयरवेल स्पीच होती है तो सम्मान से देखी जाती है.

PM मोदी ने कहा कि हमारी आजादी के बाद कई देश आजाद हुए और हम से आगे बढ़ गए. हम नहीं बढ़ पाए ये मानना होगा, आपने मां भारती के टुकड़े कर दिए. इसके बावजूद भी ये देश आपके साथ रहा था, आप उस जमाने में देश पर राज कर रहे थे जब विपक्ष सिर्फ नाममात्र का था. मीडिया भी उस दौरान काफी कम था.

मोदी ने कहा कि उस दौरान न्यायपालिका में नियुक्ति भी कांग्रेस पार्टी करती थी, आप जिन विचारों से पले-बढ़े हो उस दौरान वैसा ही माहौल देश में था. पंचायत से पार्लियामेंट तक आपका ही राज था, लेकिन आपने पूरा समय एक परिवार के गीत गाने में खपा दिया. देश के इतिहास को भुलाकर एक ही परिवार को याद किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here