Home खबर प्रेम में पड़ी नातिन को मोबाइल के लिए फटकारती थी नानी, कर...

प्रेम में पड़ी नातिन को मोबाइल के लिए फटकारती थी नानी, कर दी हत्या

0
SHARE

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में नातिन के हाथों नानी की हत्या की सनसनीखेज घटना सामने आई है. हैरानी वाली बात तो यह है कि हत्या करने के बाद 20 वर्षीय अनीता देवांगन अपने प्रेमी के साथ पुलिस थाने पहुंची और शिकायत दर्ज कराई कि कुछ नकाबपोशों ने उसकी नानी का अपहरण कर लिया है.

लेकिन अनीता और उसके प्रेमी 19 वर्षीय वीरेंद्र की अपहरण की कहानी ज्यादा देर नहीं टिक सकी. पुलिस ने दोनों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. इंस्पेक्टर सुरेश ध्रुव ने बताया कि हत्या में इस्तेमाल औजार और पेट्रोल का कैन भी बरामद कर लिया गया है और लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

घटना को अंजाम देने के करीब तीन दिन बाद 14 मार्च को अनीता खुद थाने पहुंची और रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसकी नानी का अज्ञात नकाबपोशों ने अपहरण कर लिया है. अपहरण की इस कहानी में पुलिस को शुरू से दाल में कुछ काला नजर आ रहा था.

पुलिस ने जब मामले की जांच-पड़ताल शुरू की तो कहानी में ट्विस्ट आ गया. न तो अपहरण का कोई सीन क्रिएट हुआ और न ही नानी की गुमशुदगी जैसी कोई बात सामने आई. सप्ताह भर की तफ्तीश के बाद पुलिस समझ गई कि अनीता चालाकी बरत रही है.

मौका ए वारदात का मुआयना करने के बाद अपने ही बयानों में अनीता और उसका प्रेमी 19 वर्षीय वीरेंद्र फंसते चले गए. आखिरकर दोनों ने 60 वर्षीय एम देवांगन की हत्या का अपराध कुबूल कर लिया.

दरअसल राजनांदगांव के कांकेतरा इलाके में रहने वाली एम देवांगन अपनी नातिन अनीता के साथ रहती थीं. चूंकि एम देवांगन को कोई पुत्र नहीं था, इसलिए उन्होंने अपनी नातिन अनीता को ही अपने बुढ़ापे का सहारा बना लिया था.

लेकिन नानी इस बात से नाराज रहती थीं कि उनकी नातिन पढ़ने-लिखने की बजाय मोबाइल पर घंटों किसी से बातें करती रहती है. उन्होंने मोबाइल पर बहुत अधिक बात करने को लेकर अनीता को डांटना फटकारना शुरू किया.

उन्हें यह भी पता लग गया था कि अनीता का किसी से प्रेम प्रसंग चल रहा है. इसलिए उन्होंने अनीता के मोबाइल इस्तेमाल करने पर सख्ती बरतनी शुरू कर दी. लेकिन अनीता को नानी का मोबाइल के लिए फटकारना इतना नागवार गुजरा कि उसने नानी की हत्या ही कर दी.

अनीता ने पुलिस को बताया कि 11 मार्च की रात उसने नींद में सो रही नानी के सिर पर डंडे से वार कर उनकी हत्या कर दी. घटना के वक्त उसका प्रेमी भी वहीं मौजूद था. नानी की मौत के बाद दोनों ने किचन गार्डन में खुदाई की और लाश को दफ़ना दिया. दफनाने से पहले उसने लाश पर पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी, ताकि उसकी पहचान ना हो सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here