Home खबर जब फिसली शाह की जुुबान, येदुरप्पा सरकार को बताया भ्रष्टाचार में नंबर-1

जब फिसली शाह की जुुबान, येदुरप्पा सरकार को बताया भ्रष्टाचार में नंबर-1

0
SHARE

कर्नाटक दौरे पर गए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मौजूदा कांग्रेस सरकार पर हमला बोला. शाह ने यहां किसानों के बहाने सिद्धारमैया सरकार की आलोचना की और कहा इस सरकार में किसान मर रहे हैं और सरकार सो रही है. लेकिन इस दौरान सिद्धारमैया सरकार को घेरते-घेरते उनकी जुबान से अपनी ही पिछली सरकार के लिए आलोचना के स्वर निकल गए.

दरअसल, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अमित शाह सिद्धारमैया सरकार के भ्रष्टाचार को गिना रहे थे. इस दौरान अमित शाह ने कहा कि मैं भ्रष्टाचार को लेकर डिटेल में नहीं जाना चाहता, लेकिन हाल ही में एक जज की टिप्पणी बताऊंगा. शाह ने कहा, ‘अभी-अभी सुप्रीम कोर्ट के एक रिटायर्ड जज ने कहा कि भ्रष्टाचार के लिए अगर स्पर्धा कर ली जाए तो येदुरप्पा सरकार को भ्रष्टाचार में नंबर वन का अवॉर्ड देना पड़ेगा.’ यानी अमित शाह मौजूदा मुख्यमंत्री के. सिद्धारमैया की आलोचना कर रहे थे और उनकी जुबान से अपने ही नेता बीएस येदुरप्पा का नाम निकल गया.

बगल में बैठे नेता ने दिलाई याद

अमित शाह जब बोल रहे थे तो उनके दाहिनी तरफ खुद बीएस येदुरप्पा बैठे हुए थे. जबकि शाह की बाईं ओर पार्टी के एक और नेता बैठे हुए थे. इस दौरान अमित शाह ने भ्रष्टाचार में सिद्धारमैया की जगह येदुरप्पा सरकार का नाम लिया तो बाईं तरफ बैठे नेता ने उनके कान में इस गलती के बारे में बताया. जिसके बाद शाह को भी इसका एहसास हुआ और उन्होंने तुरंत अरे…कहते हुए कहा कि सिद्धारमैया सरकार को भ्रष्टाचार के लिए नंबर वन का अवॉर्ड देना पड़ेगा.

12 मई को मतदान

बता दें कि सूबे की 224 विधानसभा सीटों पर एक ही चरण में 12 मई को मतदान होगा. जबकि 15 मई को वोटों की गिनती होगी. चुनाव आयोग के मुताबिक 17 अप्रैल से 24 अप्रैल तक नामांकन भरे जाएंगे. इसके बाद 25 अप्रैल को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी, जिसके बाद 27 अप्रैल तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here