Home खबर सरकार ने 7.81% बढ़ाया रक्षा बजट फिर भी 1962 से है कम

सरकार ने 7.81% बढ़ाया रक्षा बजट फिर भी 1962 से है कम

0
SHARE

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज सरकार का आखिरी पूर्ण बजट पेश किया. इसमें किसानों और ग्रामीणों को तो कई सौगातें मिली हैं वहीं रक्षा क्षेत्र को मामूली बढ़त दी गई. सरकार ने 2018-19 के लिये रक्षा बजट 7.81 प्रतिशत बढ़ाकर 2.95 लाख करोड़ रुपये किया है, जो चालू वित्तीय वर्ष में 2.67 लाख करोड़ रुपये था.

बता दें कि यह रक्षा बजट 2018-19 की अनुमानित जीडीपी का महज 1.58 प्रतिशत है, जो 1962 में चीन के साथ हुए युद्ध के दौरान के बजट से भी कम है. रक्षा मुद्दों के जानकारों की मानें तो देश की अर्थव्यवस्था के बढ़ने के साथ रक्षा बजट बेहद धीमी गति से बढ़ा है. वर्तमान अर्थव्यवस्था के हिसाब से रक्षा बजट 2.5% से ज्यादा होना चाहिए. जो केवल 1.58 प्रतिशत है.

इस समय देश के सामने खतरे बड़े हैं, दो परमाणु ताकत वाले पड़ोसी देश चीन और पाकिस्तान हमारे दुश्मन हैं. लेकिन हमारे सैनिकों के पास जो साजोसामान है, वह कम है और पुराना पड़ रहा है. हालत यह है कि एयरफोर्स के तमाम हेलीकॉप्टर और विमानों को ‘उड़ते ताबूत’ कहा जा रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here