Home खबर फ्लाईओवर से गिरी बच्ची, खरोंच तक नहीं आई

फ्लाईओवर से गिरी बच्ची, खरोंच तक नहीं आई

0
SHARE

सांकेतिक तस्वीर-बच्ची के माता-पिता गंभीर रूप से घायल अस्पताल में भर्ती-ठाकुर द्वारा फलाई ओवर पर हुआ हादसागाजियाबाद के ठाकुर द्वारा फ्लाईओवर पर दंपति को गलत साइड से आ रहे छोटा हाथी वाहन ने टक्कर मार दी, जिसमें चार माह की बच्ची फ्लाईओवर से नीचे जा गिरी। उसके कोई चोट नहीं लगी। जबकि पति-पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। विज्ञापन
नगर कोतवाली क्षेत्र में सुबह करीब पौने नौ बजे ठाकुरद्वारा फ्लाईओवर पर लोनी की इंदिरापुरी कॉलोनी निवासी मनोज कुमार अपनी पत्नी प्रवेश, बेटी रिया (2), ललिता ऊर्फ  चेरी (4 माह) साथ बुलंदशहर में अपनी ससुराल जा रहे थे। ठाकुरद्वारा फ्लाईओवर पर लाल कुआं की तरफ से गलत साइड से आ रहे छोटा हाथी ने बाइक को टक्कर मार दी। टक्कर से ललिता नीचे जा गिरी।
जैसे ही बच्ची फ्लाईओवर से नीचे गिरी, वहां काम कर रहे एक युवक ने उसे उठा लिया। मनोज के पैर और उसकी पत्नी सिर में गंभीर चोट आईं हैं। पुलिस ने बताया कि रिया और चेरी के कोई चोट नहीं लगी है। हादसे के बाद फ्लाईओवर और जीटी रोड पर जाम लग गया। काफी देर तक लोग जाम में फंसे रहे।
मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया और जाम खुलवाने का प्रयास किया। लोगों को जाम के कारण काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा। बताया कि गंभीर हालत में पति पत्नी को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। नगर कोतवाली प्रभारी जयकरण सिंह ने बताया कि वाहन चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।
जाको राखे साईंया मार सके न कोयजाको राखे साईंया मार सके न कोय यह कहावत चार माह की ललिता उर्फ चेरी पर सटीक बैठती है। छोटा हाथी ने बाइक को सामने से टक्कर मार दी, बच्ची करीब 10 फीट की ऊंचाई से फ्लाईओवर की दीवार फांदकर जमीन पर जाकर गिरी। उसके जरा सी भी खरोंच नहीं आई। बच्ची के जमीन पर गिरते ही वहां खड़े लोग दौड़ पड़े और उसे उठा लिया। वहां मौजूद लोगों ने बताया कि बच्ची रोई तक नहीं। माता-पिता के दिखाई न देने पर बच्ची रोई। घायल दंपति के परिजनों को भी मामले की सूचना दे दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here