Home खबर केजरीवाल, सिसोदिया के खिलाफ मानहानि का मामला दायर, विजेंद्र गुप्ता ने मांगा...

केजरीवाल, सिसोदिया के खिलाफ मानहानि का मामला दायर, विजेंद्र गुप्ता ने मांगा 1 करोड़ का हर्जाना

0
SHARE

नई दिल्ली दिल्ली बीजेपी के नेता विजेंद्र गुप्ता ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पर उनकी छवि ‘धूमिल’ करने का आरोप लगाया है। मंगलवार को गुप्ता ने अदालत में दोनों नेताओं के विरूद्ध मानहानि का मामला दायर किया। केजरीवाल और सिसोदिया ने गुप्ता पर आप प्रमुख की ‘हत्या की साजिश’ रचने वालों में शामिल होने का आरोप लगाया था
सुनवाई के लिये यह मामला 6 जून को अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल के समक्ष आएगा। गुप्ता दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता हैं। अपनी शिकायत में उन्होंने केजरीवाल और सिसोदिया से एक करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है। साथ ही मुकदमा लड़ने का खर्च भी मांगा है।
उन्होंने दावा किया कि आम आदमी पार्टी (आप) नेताओं के इस बयान पर चौतरफा ट्वीट की बाढ़ और खबरों से उनकी प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा है और इसके लिए उन्होंने (आप नेताओं ने) कोई ग्लानि या खेद नहीं जताया है। गुप्ता ने शिकायत में दावा किया, ‘आरोपी व्यक्तियों ने शिकायतकर्ता, बीजेपी, उसके नेताओं एवं कार्यकर्ताओं की छवि को जबरदस्त नुकसान पहुंचाया है और आरोपियों ने उनके एवं बीजेपी के खिलाफ ओछे एवं अपमानजनक बयानों से उनकी प्रतिष्ठा धूमिल की तथा मानहानि की।’
उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपियों ने उनकी प्रतिष्ठा को धूमिल करने, छवि खराब करने और 2019 के आम चुनाव में ओछे राजनीतिक लाभ लेने के लिये ‘निहित स्वार्थ’ के चलते बयान दिए। उन्होंने दावा किया, ‘यह भी स्पष्ट है कि इसी मंशा और अपने एजेंडा को पूरा करने के लिये शिकायतकर्ता के खिलाफ गलत बयान दिए गए।’ गुप्ता ने कहा कि उन पर लगा केजरीवाल की हत्या के प्रयास का आरोप दुर्भावनापूर्ण, जानबूझकर किया गया और मानहानिकारक है।
उन्होंने कहा, ‘ये आरोप न सिर्फ भद्दे और अशांत करने वाले हैं बल्कि ये पीड़ा पहुंचाने वाले और मानहानिकारक भी हैं। शिकायतकर्ता जाने या अनजाने में भी नुकसान पहुंचाने अथवा जानबूझकर केजरीवाल की हत्या के बारे में सोच भी नहीं सकता।’ गुप्ता ने केजरीवाल और सिसोदिया को एक सप्ताह पहले कानूनी नोटिस भेजकर उनसे माफी मांगने के लिए कहा था।
दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता ने कहा, ‘मैंने उनके (केजरीवाल और सिसोदिया के) खिलाफ पटियाला हाउस अदालत में मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है क्योंकि उन्होंने मेरे कानूनी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया।’ उन्होंने मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के खिलाफ पुलिस में भी शिकायत दर्ज कराई है और आरोप लगाया कि वे अरविंद केजरीवाल की हत्या की कथित साजिश में उन्हें ‘गलत तरीके से फंसाने’ की कोशिश कर रहे हैं।
लोकसभा चुनाव के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री ने एक पंजाबी चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा था कि जिस तरह से इंदिरा गांधी की हत्या की गयी थी ठीक उसी तरह भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) भी उनके (केजरीवाल के) अपने निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) के जरिये उनकी हत्या करवाना चाहती है। इस आरोप के जवाब में गुप्ता ने ट्वीट किया, ‘4 मई को थप्पड़कांड से पहले अरविंद केजरीवाल ने संपर्क अधिकारी से अपने वाहन के आसपास मौजूद सुरक्षा घेरे को हटाने का निर्देश दिया था। मुख्यमंत्री का निर्देश रोजनामचे में दर्ज हैं। इससे आप कोई चुनावी फायदा नहीं हासिल कर सकी क्योंकि मैंने इसका खुलासा कर दिया, इसलिए हताश केजरीवाल यह कह रहे हैं कि उनका पीएसओ बीजेपी को रिपोर्ट करता है।’ उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने भी आरोप लगाया था कि अरविंद केजरीवाल की हत्या की साजिश रचने वालों में गुप्ता शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here